Wednesday, August 08, 2012

Zindagi mere ghar aana...


आज सुबह सुबह ये गीत सुना,  आपसे शेयर का मन हुआ,  तो आप भी आनंद लीजिये इस गीत का,    जिसे सुदर्शन फाकिर  जी नें लिखा है ...beautiful song


ज़िन्दगी ज़िन्दगी मेरे घर आना, आना ज़िन्दगी
ज़िन्दगी मेरे घर आना, आना ज़िन्दगी
ज़िन्दगी, ओ, ज़िन्दगी मेरे घर आना, आना

zindagi zindagi mere ghar aana aana zindagi
zindagi mere ghar aana aana zindagi
zindagi o zindagi mere ghar aana aana
mere ghar aana
zindagi zindagi mere ghar aana aana zindagi

मेरे घर का सीधा सा इतना पता है
ये घर जो है चारों तरफ से खुला है
न दस्तक ज़रूरी न आवाज़ देना
मेरे घर का दरवाज़ा कोई नहीं हैं
है दीवारें गूम   और छत भी नहीं है
बड़ी धूप है दोस्त, कड़ी  धूप है दोस्त
तेरे आँचल का साया चुराके जीना है जीना
जीना ज़िन्दगी, ज़िन्दगी, मेरे घर आना

mere ghar ka seedha sa itna pataa hai
ye ghar jo hai chaaron taraf se khula hai
na dastak zaruri, na aavaz dena
mere ghar ka darvaaza koi nahin hai
hain deevarein guum aur chhat bhi nahin hai
badhi dhoop hai dost
kadhi dhoop hai dost
tere aanchal ka saaya churake jeena hai jeena
jeena zindagi, zindagi
o zindagi mere ghar aana…

सीधा, Seedha: Simple, Straightforward
पता, Pataa: Address, Trace
दस्तक, Dastak: Knock, Tap
दीवार, Deevaar: Wall
गूम , Gum: Absorbed, Distracted, Lost, Missing
छत, Chatt: Roof
धूप, Dhoop: Sun Light
साया, Saaya: Shadow, Shade, Shelter, Apparition

मेरे घर का सीधा सा इतना पता है
मेरे घर के आगे मोहब्बत लिखा है
न दस्तक ज़रूरी, न आवाज़ देना
मैं  साँसों की रफ़्तार से जान लूंगी
हवाओं की खुशबू से पहचान लूंगी
तेरा  फूल हूँ दोस्त, तेरी धुल हूँ दोस्त
तेरे हाथों में चेहरा छुपाके जीना है जीना, जीना ज़िन्दगी, ज़िन्दगी

mere ghar ka seedha sa itna pataa hai
mere ghar ke aage mohabbat likha hai
na dastak zaruri, na aavaz dena
maein saanson ki raftaar se jaan loongi
havaaon ki khushboo se pehchaan loongi
tera phool hoon dost
teri bhool dhool hoon dost
tere haathon mein chehra chhupa ke jeena hai jeena
jeena zindagi, zindagi
o zindagi mere ghar aana…

सांस, Saans: Breath, Sigh
रफ़्तार, Raftaar: Motion, Pace, Speed, Walk
हवा, Hawa: Air, Atmosphere, Breeze, Desire, Greed, Wind
खुशबू, Khushboo: Aroma, Fragrance
पहचान, Pehchaan: Recognize, Identify
Bhool: Fault, Forgetfulness, Lapse, Mistake, Oblivion, Omission
धूल, Dhool: Dust

मगर अब जो आना तो धीरे से आना,
यहाँ एक शहज़ादी सोयी हुई है
ये परियों की सपनों में खोयी  हुई है
बड़ी खूब  है ये, तेरा  रूप है ये
तेरे आँगन में, तेरे दामन में
ओ तेरी आँखों पे, तेरी पलकों पे
तेरे क़दमों में इस को बिठाके
जीना है जीना, जीना ज़िन्दगी

magar ab jo aana toh dheere se aana 
yahaan ek shehzaadi soyii hui hai
yeh pariyon ke sapnon mein khoyi hui hai
badi khoob hai yeh, tera roop hai yeh
tere aangan mein, tere daaman mein
o teri aankhon pe, teri palkon pe
tere kadmon mein is ko bithake
 jeena hai  jeena zindagi,
o zindagi mere ghar aana


शहज़ादी, Shehzaadi: Princess,
परी  Pari: Angel, Fairy
ख़ोया, Khoyaa: Lost
खूब, Khoob: Amiable, Beautiful, Excellent, Good, Really, Thoroughly, Well
आँगन, Aangan: Frontyard, Yard
दामन, Daaman: Skirt, Foot Of A Mountain, Lap






2 comments:

  1. adarshsethi688/08/2012

    Yeh gaana kai baar suna hoga par yeh par jaise aapne pesh kiya woh isko bahut khaas bana deta hai

    ReplyDelete

Plz add your comment with your name not as "Anonymous"